आधार

image
विकासशील देशों को अनेक समस्याओं का सामना करना पड़ता है जिसमे मुख्य समस्या बेरोजगारी है। इससे न केवल व्यक्तियों के मानसिक एवं शारीरिक स्वास्थ पर बुरा प्रभाव पड़ता है बल्कि परिवार एवं पूरे समाज का पूरा ताना-बाना भी प्रभावित होता है। (भुखमरी, कुपोषण, के कारण हुई मौतों aur berozgaari ka data , aur berozgaari se hui suicide ka data का रिकॉर्ड मालुम करना है ) इन तमाम समस्याओं के कारण हमारे देश का आर्थिक एवं सामाजिक विकास प्रभावित हो रहा है वास्तव में हमारे देश में रोज़गार के अनेक अवसर हैं कि यदि उन पर काम किया जाए विशेषतः कृषि क्षेत्र में, तो काफी कुछ इस समस्या पर काबू किया जा सकता है।

हमारे बारे में/(ग्लोबल फिशरीज़ ट्रस्ट)

ग्लोबल फिशरीज एक निजी ट्रस्ट है,जिसकी स्थापना श्री वसीम खान ने वर्ष 2020 में की है ,जो ट्रस्ट के ट्रस्टी हैं और श्रीमती हुमा खान सह-संस्थापक और निदेशक हैं। हमारी कम्पनी ने ग्लोबल फिशरीज़ फाउंडेशन के माध्यम से एकीकृत फार्मिंग को पूरे देश में प्रोजेक्ट करके लोगों के लिए रोज़गार के नए अवसर उत्पन्न कर उनके जीवन में खुशहाली लानें का बीड़ा उठाया है। पिछले 3 वर्षों से वे पूर्ण प्रयासों के साथ अपने एकीकृत फार्म को सफलतापूर्वक चला रहे हैं। ट्रस्ट न केवल बेरोज़गारों को व्यवसाय एवं नौकरी के अवसर देगा बल्कि विकलांगों (जो नौकरी करने के योग्य हैं), एवं किसान और उनके परिवार की महिलाओं को भी इसका लाभ उठाने का अवसर प्रदान करेगा जिससे वे आर्थिक एवं सामाजिक तौर से मज़बूत बन सकें। शुरुआत में, हम राजस्थान राज्य के किसान परिवारों के साथ बड़े पैमाने पर एकीकृत फार्म खोलेंगे फिर धीरे-धीरे पड़ोसी राज्यों एवं अंत में देश के प्रत्येक राज्य एवं क्षेत्र में एकीकृत फार्मिंग करेंगे। वास्तव में कम्पनी का लक्ष्य एकीकृत फार्मिंग के माध्यम से अधिक से अधिक लोगों को लाभ पहुँचाना है। हमारे पास एकीकृत फार्मिंग के क्षेत्र में विशेषज्ञ लोगों की अनुभवी टीम है जो अपने ज्ञान एवं अनुभव से किसानों, महिलाओं एवं अन्य लोगों को इस व्यवसाय की सम्पूर्ण जानकारी देंगे।

(ग्लोबल फिशरीज़ ट्रस्ट)/ उद्देश्य

ग्लोबल फिशरीज़ ट्रस्ट के मुख्य उद्देश्य निम्नलिखित हैं-
  • बालिका एवं महिला के उत्थान हेतु कार्य करना।
  • शिक्षा एवं स्वास्थ्य के क्षेत्र में कार्य करना
  • रोज़गार के नए अवसर प्रदान करना।
  • दिव्यांगों को आत्मनिर्भर बनाने हेतु कार्य करना।
  • भारत सरकार के स्वछता अभियान में सहयोग करना।

प्रशिक्षण

'करत-करत अभ्यास जड़मत होत सुजान'
ग्लोबल फिशरीज लोगो को एकीकृत फार्मिंग से जुडी हर छोटी बड़ी चीज़ो की ट्रेनिंग देगी जिससे उनको भविष्य में स्वयं का व्यवसाय करने में आसानी होगी

प्रशिक्षण का महत्व

सेवा

चिकित्सा कैंप - यह एक कटु सत्य है कि ग्रामीण क्षेत्र में चिकित्सा सुविधा की स्थिति अत्यंत दयनीय है। ग्रामीणों को चिकित्सा हेतु शहर जाना पड़ता है जिसमें उनका अधिक समय एवं धन दोनों ही व्यय होता है, साथ ही शहर में चिकित्सा सुविधा भी मंहगी है। इसी कारण अनेक लोग चिकित्सा सुविधा का लाभ नहीं ले पाते और कष्ट में रहते हैं। इस गंभीर समस्या को दूर करने हेतु ट्रस्ट समय-समय पर मुफ्त चिकित्सा कैंप आयोजित करेगी, जिससे लोगो का जीवन स्वस्थ रहेगा। महिला विकास कार्यक्रम - ट्रस्ट गांव की महिलाओं के उत्थान हेतु समय-समय पर नि:शुल्क प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित करेगी। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में उन्हें कई प्रकार की ट्रैंनिंग दी जाएगी जिसमें उन्हें अपनी छिपी हुई प्रतिभा का उपयोग करके आत्मनिर्भर बनने में मदद मिलेगी और उनका भविष्य बेहतर होगा। बच्चो के लिए गतिविधि कैंप- ग्लोबल फिशरीज गांव के बच्चों के लिए समय-समय पर नि:शुल्क गतिविधि कैंप आयोजित करेगी। इस कैंप में बच्चे अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर सकेंगे, खेल-कूद के माध्यम से कई रचनात्मक चीज़ो जैसे कि टीम भावना से कार्य करना, अपनी चीज़ो को आपस में बाँटना, मिल-जुल कर रहना आदि का ज्ञान होगा जिससे बच्चों के अंदर सही निर्णय लेनें की क्षमता विकसित होगी।

ग्लोबल फिशरीज ट्रस्ट डोनेशन

बच्चो के लिए किताबे - 'देश के बच्चे ही देश का भविष्य हैं' उद्धरण को आत्मसात करते हुए ट्रस्ट बच्चों को अच्छी शिक्षा हो, पर विश्वास करती है। उनकी शिक्षा के प्रति जिज्ञासा उत्पन्न करने हेतु ट्रस्ट द्वारा गांवों में किताबों की व्यवस्था करेगी।( सामूहिक विवाह में डोनेशन - सामूहिक विवाह समाज के हित में एक अच्छी सोच और एक अच्छा कदम है, किसी कमज़ोर, ज़रूरतमंद या असहाय परिवार की कन्या या वर का विवाह करना एक पुनीत कार्य है। ग्लोबल फिशरीज ट्रस्ट सामूहिक विवाह का समर्थन करती है जिससे फ़िज़ूलख़र्ची, दान-दहेज़ जैसी कुरीतियों से समाज को मुक्ति मिल सके। इस हेतु ट्रस्ट सामूहिक विवाह सम्मेलन का आयोजन करेगा। अनाथ आश्रम में डोनेशन - हमारे देश में लाखों बच्चे अनाथ हैं जो स्टेशनों, सड़कों, बस अड्डों एवं बाज़ारों आदि स्थानों पर भीख मांगते, कूड़ा बीनते, नशा करते या फिर कोई गैरकानूनी कार्य करते हुए मिल जाएंगे। लाखों बच्चे अनाथ आश्रम में भी रहते हैं जहाँ उनका जीवन बहुत खुशहाल नहीं है। ट्रस्ट ऐसे बच्चों के स्वास्थ्य एवं शिक्षा को बेहतर बनाने हेतु कार्य करेगा। वृद्ध आश्रम में डोनेशन - मनुष्य एक सामाजिक प्राणी है जो परिवार एवं समाज के साथ रहना पसंद करता है लेकिन आज के भौतिकवादी और आधुनिक युग में संतानों ने अपने माता-पिता एवं बुज़ुर्गों को बोझ समझना शुरू कर दिया है। इस कारण कई लोगों ने अपने माता-पिता को वृद्ध आश्रम में भेज दिया है। ट्रस्ट हर माँ-बाप के जीवन में खुशियां लाने हेतु कार्य करेगी।

ग्लोबल फिशरीज ट्रस्ट लोगो को इन व्यवसाय में ट्रेनिंग देगी-

जैविक खेती
कृषि खेती
मछली पालन
मुर्गी व बतख पालन

MADE IN INDIA (मेड इन इंडिया)

ग्लोबल फिशरीज़ फाउंडेशन का मुख्य उद्देश्य भारतीय उत्पादों को प्राथमिकता देना और गाँव की महिलाओं को अपनी आजीविका कमाने में मदद करना है क्योंकि हमारे छोटे से प्रयास से बहुत फर्क पड़ेगा। हम गाँव की महिला के लिए कुछ लघु उधोग व्यवसाय स्थापित करेंगे, जिसमें वे “स्वदेशी उत्पाद” बनाएंगे। और उन उत्पादों को उपभोक्ताओं को बाजार दर पर और हमारे किसानों को बहुत ही उचित दरों पर बेचा जाएगा। जो लाभ हम उन उत्पादों को बेचकर कमाते हैं, उनका उपयोग दो मुख्य क्षेत्रों: शिक्षा और स्वास्थ्य सेवा में वंचितों की मदद करने में किया जाएगा।
image

john paradox

Agriculture Expert

Halil Alex

Agriculture Expert

payment success

Your order has been successfully processed! Please direct any questions you have to the store owner. Thanks for shopping

continue browsing

your order is being processed

We Have Just Sent You An Email With Complete Information About Your Booking